Tuesday, 24 November 2015

बधाइयां - Badhaiyan / Congratulations


बधाइयां - Badhaiyan / Congratulations


बधाई हो, Conratulations, सुनते ही मन का मयूर नाच उठता है । बहुत सी जगह पर ये उर्जादायक शब्द सुनने को मिल सकता है, कारण कुछ भी हो,  लेकिन परिणाम एक ही होता है, बहुत से चेहरों पर मुस्कुराहट औरआँखों में ख़ुशी के आंसू ।

मेरे एक दोस्त दीपक की बात आपको बताता हुं, जो उसने मुझे बतायी थी । काफी समय से वो आर्थिक परेशानियों से जूझ रहा था । वर्तमान कंपनी में, जहाँ वो 5-6 वर्षों से काम कर रहा था, बेचारे को वो तनख्वाह नहीं मिल रही थी जिसके काबिल वो था । खर्चे दिन ब दिन बढ़ रहे थे मगर कमाई उस अनुपात में नहीं बढ़ रही थी ।

एक दिन अपने किसी मित्र की सलाह से वो अफ़्रीकी देशों में कर्मचारी उपलब्ध करवाने वाली कंपनी में साक्षात्कार के लिए गया था । उसका साक्षात्कार सफल रहा, क्योंकि काम का जानकार और अनुभवी प्रत्याशी था । उसने जो बताया वो सुनकर मैंने भी उसे बधाई दी ।

"बधाई हो दीपकजी, आप हमारे तंजानिया स्तिथ कार्यालय के लिए चुन लिये गए हैं।" साक्षात्कार लेने वाले महोदय के मुंह से ये सुनकर दीपक का मन अचानक ही वसंत के फूलों की तरह खिल उठा था । वर्तमान तनख्वाह से लगभग तीन गुना तनख्वाह मिलेगी जानकार तो दीपक जागते में सपने देखने लगा था ।

घर आकर उसने ख़ुशी ख़ुशी अपनी पत्नी को सारी बात बताई तो उसकी पत्नी तो मारे ख़ुशी के रो ही पड़ी थी । थोडा संभलने के बाद उसने दीपक से दो ही शब्द कहे "बधाई हो"।



कोई पति ऑपरेशन थिएटर के बाहर पत्नी के लिए चिंतित अवस्था में बैठा अनेकों तरह के विचार अपने मस्तिष्क में ले आता है । लेकिन जब नर्स बाहर आकर कहती है "बधाई हो भैयाजी, जुड़वां बच्चे हुए है, एक मुन्ना एक मुन्नी।" सच में वो क्षण उसके लिए असीम आनंद के क्षण होते हैं ।

बच्चों के स्कूल से फोन आये और उधर से ये बताया जाए कि "बधाई हो जी, आपका बच्चा उत्तीर्ण हो गया है" या "आपके बच्चे ने इस प्रतियोगिता में फलां स्थान प्राप्त किया है" सुनकर माता पिता अपने आप को कितना गौरवान्वित महसूस करते हैं ।

किसी भी प्रकार की खुशखबर कोई अगर आपको नींद से जगाकर भी दे, और हो सकता है आपके साथ ऐसा हुआ भी हो, तो भी आप ख़ुशी से नाच उठते हैं, और मुंह से ये ही निकलता है "बधाई हो।"

"बधाई हो" की सीमाएं अनंत है । ऐसा नहीं है कि किसी की सगाई होने पर, परीक्षा में पास होने पर, नोकरी में चयन होने, शादी या संतान होने पर ही बधाई दी जाए । ये तो किसी भी मौके पर दी और ली जा सकती है चाहे उस घटना से हमारा सीधा सम्बन्ध ना भी हो ।

खेल प्रेमी भारतीय टीम के जीतने पर एक दूसरे को बधाई देते हैं । हमारे जवानों द्वारा किसी खूंखार आतंकी या देश के दुश्मन को मार गिराने पर भी इस बधाई का आदान प्रदान होता है ।

जन्मदिन की बधाइयां तो हर दूसरे तीसरे दिन बंटती है । कोई लंबे कार्यकाल के बाद सेवानिवृत हो रहा हो तो भी बधाइयां दी जाती है । घर में कोई नयी वस्तु लाई जाए तो बधाई हो के स्वर गूंज उठते हैं ।

क्योंकि ये छोटा सा शब्द "बधाई हो" अपने आप में इतनी भावनाएं छुपाये हुए है की देने और लेने वाले दोनों को एक शीतल ठंडक का एहसास कराता है ।

मैदान में जीतने वाले खिलाड़ियों या सीमा पर देश की रक्षा करते जवानों तक हमारी आवाज पहुंचे या ना पहुंचे मगर इस "बधाई हो" वाली भावनाओं की आवाज उन्हें अवश्य सुनाई दे जाती है ।

ये छोटा सा शब्द हर किसी में एक नयी ऊर्जा का संचार कर देता है । इसलिए दोस्तों हर मौके पर हर पल किसी न किसी को बधाई हो कहते रहो । जवाब में आपको भी जरूर सुनने को मिलेगा "बधाई हो"।

चलते चलते आप सबको नव वर्ष की अग्रिम बधाई ।

Click here to read "पसंदीदा कार्यक्रम - The favourite TV Program" by Sri Shiv Sharma


जय हिन्द

...शिव शर्मा की कलम से...








आपको मेरी ये रचना कैसी लगी दोस्तों । मैं आपको भी आमंत्रित करता हुं कि अगर आपके पास भी कोई आपकी अपनी स्वरचित कहानी, कविता, ग़ज़ल या निजी अनुभवों पर आधारित रचनायें हो तो हमें भेजें । हम उसे हमारे इस पेज पर सहर्ष प्रकाशित करेंगे ।.  Email : onlineprds@gmail.com

धन्यवाद

Note : Images and videos published in this Blog is not owned by us.  We do not hold the copyright.



2 comments: